brain functions#मस्तिष्क के कार्य

मस्तिष्क (Brain)

दोस्तो आज हम जानेंगे कि मानव मस्तिष्क किस प्रकार से कार्य करता है 

मानव मस्तिष्क शरीर का एक केन्द्रीय अंग है जो सूचना विनिमय तथा आदेश व निंयत्रण का कार्य करता है। शरीर के विभिन्न कार्य कलापों जैसे तापमान निंयत्रण, मानव व्यवहार, रुधिर परिसंचरण, श्वसन, देखने, सुनने, बोलने, ग्रंथियों के स्त्रावण आदि को नियंत्रित करता है। यह करीब 1.5 किलो वजन का शरीर का सर्वाधिक जटिल अंग है जो खोपङी के द्वारा सुरक्षित रहता है। मस्तिष्क के आवरण के बीच एक खाँच की तरह का द्रव्य जिसे मस्तिष्क मेरूद्रव्य कहते हैं पाया जाता है। मस्तिष्क तीन भागों में विभक्त होता है।

  • अग्र मस्तिष्क(Fore brain )
  • मध्य मस्तिष्क(Mid brain)
  • पश्च मस्तिष्क(Hind brain)

 

(अ)अग्र मस्तिष्क (Fore brain)

प्रमस्तिष्क (Cerebrum), थेलेमस तथा हाइपोथेलेमस मिलकर अग्र मस्तिष्क का निर्माण करते हैं। प्रमस्तिष्क मानव मस्तिष्क का 80-90 प्रतिशत होता है।

यह मस्तिष्क का वह भाग है जहाँ से ज्ञान, चेतना, सोचने-विचारने का कार्य संपादित होता है। एक लम्बा गहरा विदर प्रमस्तिष्क को दाएँ व बाएँ गोलार्धो (Cerebral hemispheres) में विभक्त करता है।

प्रत्येक गोलार्द्ध में धूसर द्रव्य (Grey matter) पाया जाता है जो प्रान्तस्था या वल्कुट या कोर्टेक्स (Cortex) कहलाता है। अन्दर की ओर श्वेत द्रव्य (White matter) से बना हुआ भाग अन्तस्था या मध्याशं (Medudla) कहलाता है। धूसर द्रव्य (Grey matter) में कई तंत्रिकाएँ पाई जाती है। इनकी अधिकता के कारण ही इस द्रव्य का रंग धूसर दिखाई देता है।

दोनों गोलार्द्ध आपस में कार्पस कैलोसम की पट्टी द्वारा जुङे होते है। प्रमस्तिष्क चारों ओर से थेलेमस से घिरा हुआ रहता है। थेलेमस संवेदी व प्रेरक संकेतों का केन्द्र है।

अग्र मस्तिष्क के डाइएनसीफेलाॅन (Diencephalon) भाग (जो कि थेलेमस के आधार पर स्थित होता है) पर हाइपोथेलेमस (Hypothalamus) स्थित होता है। यह भाग भूख, प्यास, निद्रा, ताप, थकान, मनोभावनाओं की अभिव्यक्ति आदि का ज्ञान करवाता हैं।

(ब) मध्य मस्तिष्क (Mid brain)

यह चार पिण्डों में बटाँ हुआ भाग है जो हाइपोथेलेमस तथा पश्च मस्तिष्क के मध्य स्थित होता है।
प्रत्येक पिण्ड को काॅर्पोरा क्वाड्रीजेमीन (Corpora quadrigemina) कहा जाता है। ऊपरी दो पिण्ड दृष्टि के लिए तथा निचले दो पिण्ड श्रवण के लिए उत्तरदायी हैं।

(स) पश्च मस्तिष्क (Hind brain)

यह भाग अनुमस्तिष्क (Cerebellum), पोंस (Pons) तथा मध्यांश (Medulla oblongata) को समाहित करता है। अनुमस्तिष्क मस्तिष्क का दूसरा बङा भाग है जो एच्छिक पेशियों (जैसे हाथ व पैर की पेशियाँ) को नियंत्रित करता है। यह एक विलगित सतह वाला भाग है जो तंत्रिकाओं को अतिरिक्त स्थान प्रदान करता है। पोंस मस्तिष्क के विभिन्न भागों को आपस में जोङता है। मध्यांश अनैच्छिक क्रियाओं को नियंत्रित करता है जैसे हृदय की धङकन, रक्तदाब, पाचक रसों का स्त्राण आदि। यह मस्तिष्क का अन्तिम भाग है जो मेरूरज्जु से जुङा होता है।

दोस्तो आज पोस्ट आपको केसे लगी ,नीचे कमेंट बॉक्स मे जरूर लिखें 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.