psychology quiz 4

psychology quiz 4

दोस्तो आज की पोस्ट में हम आपके लिए मनोविज्ञान की महत्वपूर्ण प्रश्न की  चौथी  सीरीज़ लेकर आएं है हमें पूर्ण विश्वास है कि आपको अच्छी लगेगी

300 पाॅवलाव ने मनोविज्ञान के किस सिद्धान्त का प्रतिपादन किया?
(1) प्रयोगात्मक अनुकूलन सिद्धान्त के
(2) चिरसम्मत अनुकूलन सिद्धान्त के ♦
(3) अन्र्तदृष्टि सिद्धान्त के
(4) सूझ का सिद्धान्त के

301 व्यक्ति की संवेदना और अभिवृति जानने की सबसे उपयुक्त विधि है?
(1) निरीक्षण विधि (2) प्रश्नावली विधि
(3) साक्षात्कार विधि ♦ (4) उपरोक्त सभी

302 प्रथम मनोवैज्ञानिक प्रयोगशाला जर्मनी में कब स्थापित हुई
(1) 1878 (2) 1879 ♦
(3) 1880 (4) 1892
303 शिक्षा मनोविज्ञान वर्तमान में अपने किस स्वरूप में है?
(1) बाल्यावस्था में (2) जवानी में
(3) शैशवास्था में ♦ (4) किशोरावस्था मे

304 मनोविज्ञान अध्ययन की जेनेटिक विधि को अन्य किस नाम से पुकारा जाता है?
(1) आनुवंशिक विधि (2) विकासात्मक विधि ♦
(3) अन्तःदर्शन विधि (4) उपरोक्त सभी

305 आॅलपोर्ट के व्यक्तित्व सिद्धान्त का उद्भव निम्नलिखित में से किसके पूर्वगामी के रूप मे हुआ
(1) मनोविश्लेषण (2) व्यवहारवाद
(3) मानवतावादी दृष्टिकोण ♦ (4) अस्तित्वाद

306 बुद्धि के बहुकारक सिद्धान्त के प्रतिपादक है
(1) मैक्डूगल (2) टरमैन
(3) थाॅर्नडाइक ♦ (4) बर्ट

307 निम्नलिखित में संे कोनसा कथन सत्य है
(1) लड़के अधिक बुद्धिमान होते है
(2) लड़किया अधिक बुद्धिमान होती है
(3) बुद्धि का लिंग के साथ सम्बन्ध नहीं है ♦
(4) सामान्यतः लड़के, लडकियों से अधिक बुद्धिमान होते है

308 एक शिक्षिका का भावात्मक बुद्धिलब्धांक ऊंचा होता है, इसका तात्पर्य है?
(1) वह उच्च बुद्धि वाली है
(2) वह उच्च अनुशासनप्रिय है
(3) वह हास परिहास वाली है
(4) वह सन्तुलित व्यवहार रखती है ♦

309 क्रियात्मक अनुसंधान प्रत्यय का उत्पति स्त्रोत है?
(1) आधुनिक मानव व्यवस्था सिद्धान्त ♦
(2) मानव सभ्यता सिद्धान्त
(3) प्राचीन मानव व्यवस्था सिद्धान्त
(4) उपर्युक्त में से कोई नही

310 प्रतिभावान बालकों की पहचान करने के लिए हमें सबसें अधिक महत्व-
(1) समुदाय के विचारों को देना चाहिए
(2) शिक्षक के निर्णय को देना चाहिए
(3) वस्तुनिष्ठ परीक्षणों के परिणाम को देना चाहिए ♦
(4) अभिभावकों के मत को देना चाहिए

311 विद्यालय में विद्यार्थियों को कैसे अभिप्रेरित करना उचित है?
(1) बताये गये अध्ययन द्वारा
(2) प्रासंगिक अध्ययन द्वारा
(3) गहन अध्ययन द्वारा
(4) सस्वर अधिगम द्वारा ♦

312 शारीरिक वृद्धि और विकास को कहते है
(1) तत्परता (2) अभिवृद्धि ♦
(3) गतिशीलता (4) आनुवंशिकता

313 संकेत अधिगम के अन्र्तगत सीखा जाता है?
(1) वातावरण (2) मनोदैहिक
(3) पारम्परिक अनुकूलन ♦ (4) मनोविज्ञान

314 सीखी हुई बात को समरण रखने या पुनः स्मरण करने की असफलता कहलाती है
(1) पुनःस्मरण (2) विस्मृति ♦
(3) संवेदना (4) स्मृति

315 मैसलो के अभ्प्रिेरणा सिद्धान्त को कहा जाता है-
(1) आवश्यकता का सिद्धान्त ♦
(2) शारीरिक सिद्धान्त
(3) दृढ़ इच्छाशक्ति का सिद्धान्त
(4) अन्तर्नोद का सिद्धान्त

316 बाह्य आभास के आधार पर व्यक्तित्व का वर्णन कहा जाता है?
(1) गहन दृष्टिकोण
(2) सतही दृष्टिकोण ♦
(3) मानकीय दृष्टिकोण
(4) प्रेक्षणात्मक दृष्टिकोण

317 इनमें से किस घटक के प्रभाव से शैक्षिक पिछड़ापन उत्पन्न नही होगा
(1) परिवार का खराब सामाजिक आर्थिक स्तर
(2) विद्यालय का सोचनीय शैक्षिक माहौल
(3) परिवार का पेशा ♦
(4) परिवार का सोचनीय भावानात्मक वातावरण

318 समान आयु वर्ग के सम्बद्ध अन्य सहपाठियों से जब किसी छात्र की तुलना की जाती है तो उसमें एक स्पष्ट शैक्षिक कमी दृष्टिगोचर होती है। ऐसे बच्चे को कहते है
(1) प्रतिभाशाली (2) पिछड़ा बालक ♦
(3) अपवादी बालक (4) इनमें से कोई नही

319 जब मानव शरीर के एक भाग को दिए गए प्रशिक्षण का अन्तरण दूसरे भाग मे हो जाता है तो इसे कहते है
(1) ऊध्र्व अन्तरण (2) क्षैतिज अन्तरण
(3) द्विपाशर््िवक अन्तरण ♦
(4) इनमें से कोई नही

320 ‘‘विकास के परिणामस्वरूप नवीन विशेषताए ओर नवीन योग्यताए प्रकट होती है।‘‘ यह कथन किसने कहा है?
(1) गेसेल (2) हरलाॅक ♦
(3) मेरेडिथ (4) डगलस और होलैण्ड

321 श्यामपट्ट को शिक्षण सामग्री के किस समूह के अन्तर्गत किया जा सकता है
(1) श्रव्य साधन (2) दृश्य साधन ♦
(3) दृश्य-श्रव्य साधन (4) कोई नही

322 असंगठित घर से आने वाला बच्चा सबसे अधिक कठिनाई का अनुभव करेगा
(1) सुनिर्मित पाठों में (2) स्वतन्त्र अध्ययन में ♦
(3) नियोजित निर्देश में (4) अभ्यास पुस्तिकाओं में

323 मूल प्रवृतियों को चैदह प्रकार से किसने वर्गीकृत किया है?
(1) ड्रेवल (2) मैक्डूगल ♦
(3) थाॅर्नडाइक (4) वुडवर्थ

324 विद्यार्थियों में प्रत्यय विकास का निर्माण के लिए शिक्षक
(1) की शिक्षण विधि सरल से जटिल की ओर होनी चाहिए
(2) को विद्यार्थी को व्यापक अनुभव का अवसर प्रदान करना चाहिए
(3) को विद्यार्थी को निर्मित प्रत्ययों के अन्तरण का अवसर देना चाहिए
(4) उपर्युक्त सभी ♦

325 कल्पना के विकास के लिए
(1) ज्ञानेन्द्रियों को प्रशिक्षित करना चाहिए
(2) कहानी सुनाना चाहिए
(3) रचनात्मक प्रवृति के विकास पर ध्यान देना चाहिए
(4) उपर्युक्त सभी ♦

326 थस्र्टन तथा लिकर्ट निम्न में किसके मापन से सम्बन्धित है
(1) बुद्धि (2) अभिवृति ♦
(3) मूल्य (4) व्यक्तित्व
327 निम्न में से कौनसा लक्षण किसी मापक उपकरण के लिए सर्वाधिक वांछनीय है
(1) विश्वसनीयता ♦ (2) वैधता
(3) वस्तुनिष्ठता (4) मानक

328 निम्न में से कौन शिक्षण कुशलता से सम्बन्धित है
(1) श्यामपट्ट पर लिखना (2) प्रश्नों को हल करना
(3) प्रश्न पूछना (4) उपर्युक्त सभी ♦

329 वातावरण वह बाहरी शक्ति है जो हमें प्रभावित करती है। किसने कहा था?
(1) वुडवर्थ (2) राॅस ♦
(3) एनास्टसी (4) इनमें से कोई नही

330 निम्नलिखित में से कौनसा बाल विकास का एक सिद्धान्त नही है
(1) सभी विकास एक क्रम का पालन करते है
(2) विकास के सभी क्षेत्र महत्वपूर्ण है
(3) सभी विकास परिपक्वन तथा अनुभव की अंतः क्रिया का परिणाम होते है
(4) सभी विकास तथा अधिगम एक समान गति से आगे बढ़ते है ♦

331 स्मृति का एबिंगहास के साथ वही सम्बन्ध है जो बुद्धि परीक्षण का
(1) स्टर्न से (2) थाॅर्नडाइक से
(3) बिने से ♦ (4) गिलफोर्ड से

332 निम्न सिद्धान्तों में से कौन बच्चे के बौद्धिक विकास के चार चरणों (संवंदी-चालक, पूर्व-परिचालन, सुदृढ-परिचालन एवं औपचारिक-परिचालन) को चिन्हित करता है
(1) एरिक्सन का मनो-सामाजिक विकास सिद्धान्त
(2) फ्रायड का मानसिक यौन विकास सिद्धान्त
(3) जीन पियाजे का संज्ञानात्मक विकास सिद्धान्त ♦
(4) कोलबर्ग का नैतिक विकास सिद्धान्त

333 अधिगम अंतरण का थार्नडाइक सिद्धान्त कहा जाता है?
(1) समानता सिद्धान्त
(2) अनुरूप तत्त्वों का सिद्धान्त ♦
(3) औपचारिक नियमों का सिद्धान्त
(4) इनमें से कोई नही

334 ‘‘140‘‘ से अधिक बुद्धिलब्धि वाले बच्चों को किस श्रेणी में रखेगे।
(1) मूर्ख (2) मन्दबुद्धि
(3) सामान्य बुद्धि (4) प्रतिभाशाली ♦
335 कर्टलेविन के अनुसार, समूह में जो परिवर्तन होते है, उन्हे………
(1) परस्परता कहते है (2) रचनात्मक कहते है
(3) गतिशीलता कहते है ♦ (4) संगति कहते है

336 ……………………….मस्तिष्क की संरचना तथा कृत्यों में विभेद का परिणाम होता है।
(1) तनाव (2) पिछड़ापन
(3) डिस्लेक्सिया ♦ (4) इनमें से कोई नही

337 अध्यापन के समय अध्यापक को निम्नलिखित में से किसका सर्वाधिक ध्यान रखना चाहिए।
(1) विषय-वस्तु
(2) वैयक्तिक भिन्नता ♦
(3) विद्यार्थियों की आयु
(4) विद्यार्थियों की पारिवारिक पृष्ठभूमि

338 उपलब्धि अभिप्रेरणा है
(1) सफलता व असफलता को समान रूप से स्वीकारने की तत्परता
(2) बिना विचारे, जल्दबाजी में कार्य करने की प्रवृति
(3) चुनौतीपूर्ण कार्य करने पर डटे रहने की प्रवृति ♦
(4) असफलता से बचने की प्रवृति

339 मानव विकास है?
(1) मात्रात्मक (2) गुुणात्मक
(3) एक निश्चित सीमा तक मापा नही जा सकता
(4) 1 व 2 दोनों ♦

340 मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का प्रमुख उद्देश्य है
(1) बालक के मानसिक स्वास्थ्य की रक्षा करना
(2) कुसमायोजन का निराकरण करना
(3) 1 और 2 दोनों ♦
(4) उपर्युक्त में कोई नही

341 दबाव को कम करने एवं परीक्षाओं में सफलता के लिए आवश्यक है
(1) कम अवधि की परीक्षाओं में अन्तरण ♦
(2) विद्यालयी शिक्षा की विभिन्न चरणों में परीक्षाओं का आयोजन
(3) वार्षिक एवं अर्द्धवार्षिक परीक्षाए
(4) विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं के लिए विभिन्न ऐजेन्सियों
की स्थापना
342 सबसे अधिक गहन ओर जटिल सामाजिकरण है
(1) पूर्व बाल्यावस्था के दौरान
(2) प्रौढ़ावस्था के दौरान
(3) व्यक्ति के पूरे जीवन में
(4) किशोरावस्था के दौरान ♦
343 पियाजे के अनुसार विकास की पहली अवस्था (जन्म से लगभग 2 वर्ष आयु) के दोरान बच्चा…….सबसे बेहतर सीखता है
(1) अमूर्त तरीके से चिन्तन द्वारा
(2) भाषा के नए अर्जित ज्ञान के अनुप्रयोग द्वारा
(3) इन्द्रियों के प्रयोग द्वारा ♦
(4) निष्क्रिय शब्दों को समझने के द्वारा

344 रोर्शक परीक्षण के बारे में निम्नलिखित में से कौनसा कथन सत्य नही है
(1) रोशार्क परीक्षण एक अभिकृत्यामक प्रकार का प्रक्षेपी परीक्षण है
(2) रोशार्क परीक्षण व्यक्तित्व की सम्पूर्ण रूप में नैदानिक जाॅच करता है ♦
(3) यह व्यक्तित्व के बौद्धिक तथा अबौद्धिक दोनो ही प्रकार के शीलगुणों का मापन है
(4) इसका मूलभूत प्रयोजन वयक्तित्व की अन्तर्वस्तु जैसे प्रणोदन, आवश्यकता, स्वैरकल्पना, कुण्ठाओं इत्यादि को उजागर करना है

345 कार्ल रोजर्स के अनुसार कुसामायोजन का आधार वैषम्य है
(1) इदम् तथापराहम् के मध्य
(2) वास्तविक स्व तथा आदर्श स्व के मध्य ♦
(3) स्व तथा वातावरण के मध्य
(4) अचेतन तथा चेतन के मध्य

346 व्यक्तित्व के प्रारूप-सिद्धान्तों की सबसे पृथक्कारी विशिष्टि क्या है
(1) शरीर-विन्यास तथा स्वभाव में सम्बन्ध ♦
(2) शरीर-विन्यासों का वर्गीकरण
(3) प्रारूपी अभिलक्षण
(4) मनः शारीरिक उपागम

347 मूल्यांकन का उद्देश्य है
(1) बालकों को धीमी गति से सीखने वाले एवं प्रतिभाशाली बालकों के रूप मे लेबल करना
(2) जिन बालकों केा उपचारात्मक शिक्षा की आवश्यकता है उनकी पहचान करना
(3) अधिगम की कठिनाइयों व समस्या वाले क्षेत्रों का पता लगाना
(4) उत्पादन जीवन जीने के लिए शिक्षा किस सीमा तक तैयार कर पाई है, का
पुष्टिपोषण प्रदान करना ♦

348 किशोरावस्था में बच्चे किस प्रकार की समस्या का सामना करते है
(1) शारीरिक एवं मानसिक परिवर्तन से समायोजन करना ♦
(2) अपने साथियों से समयोजन करना
(3) अपने माता-पिता से समायोजन करना
(4) पढ़ाई सम्बन्धी समायोजन करना

349 परीक्षा में विद्यार्थियों से किस प्रकार के प्रश्न पूछने चाहिए
(1) स्मृति एवं समझ आधारित
(2) वस्तुनिष्ठ एवं विषयगत
(3) समझ एवं अनुप्रयोग आधारित ♦
(4) केवल वस्तुनिष्ठ

350 प्राथमिक विद्यालयों के बालकों के लिए निमन में किसे बेहतन मानते है
(1) वीडियो अनुरूपणा (2) प्रदर्शन
(3) स्वयं के द्वारा किया गया अनुभव ♦
(4) ये सभी

351 हस्तशिल्प की शिक्षा दी जानी चाहिए।
(1) मन्दबुद्धि बालक को ♦
(2) पिछड़े बालक को
(3) सामान्य बालक को
(4) प्रखर बुद्धि बालक को

352 व्यक्तियों में एक दूसरे से भिन्नता क्यों होती है
(1) वातावरण के प्रभाव के कारण
(2) जन्मजात विशेषताओं के कारण
(3) वंशानुक्रम और वातावरण के बीच अन्योन्याक्रिया के कारण ♦
(4) प्रत्येक व्यक्ति को उसके माता-पिता से जीनों का भिन्न समुच्चय प्राप्त होने के कारण

353 व्यक्ति में उन मनोशारीरिक अवस्थाओं का गतिशील संगठन, जो उसके पर्यावरण के साथ अद्वितीय सामंजस्य निर्धारित करता है, वह कहलाता है
(1) व्यक्तित्व ♦ (2) समायोजन
(3) संवेदना (4) चरित्र

354 मानव व्यक्ति परिणाम है-
(1) केवल आनुवंशिकता का
(2) पालन-पोषण और शिक्षा का
(3) आनुवंशिकता और वातावरण की अन्तःक्रिया का♦
(4) केवल वातावरण का

355 निम्नलिखित में से किसे प्राथमिक स्तर पर शिक्षक का सर्वाधिक महत्वपूर्ण गुण माना जाना चाहिए
(1) पढ़ाने की इच्छा
(2) धैर्य और दृढ़ता ♦
(3) दण्डित करनेकी हानिरहित विधियों का ज्ञान
(4) अत्यधिक मानकीकृत भाषा में पढाने की दक्षता

356 बच्चे की जिज्ञासा शांत करनी चाहिए
(1) जब शिक्षक फुर्सत में हो
(2) जब विद्यार्थी फुर्सत में हो
(3) कुछ समय के पश्चात्
(4) तत्काल जब विद्यार्थी द्वारा जिज्ञासा की गई है ♦

357 बच्चों में नैतिकता की स्थापना के लिए सर्वोतम मार्ग है
(1) उन्हे धार्मिक पुस्तकें पढ़ाना
(2) शिक्षक का आदर्श रूप मे ंव्यवहार करना ♦
(3) उनका मूल्य शिक्षा पर मूल्यांकन करना
(4) उपर्युक्त में से कोई नही

358 विकास के परिप्रेक्ष्य में समय के साथ होने वाले परिवर्तनों में निम्न में क्या शामिल है
(1) रूप (2) दर
(3) अनुक्रम (4) ये सभी ♦

359 शिक्षक को ज्ञान होना चाहिए
(1) अध्यापन विषय का (2) बाल मनोविज्ञान का
(3) शिक्षा संहिता का
(4) अध्यापन विषय एवं बाल मनोविज्ञान का ♦

360 एक बच्चे की वृद्धि और विकास के अध्ययन की सर्वाधिक अच्छी विधि कौनसी है
(1) मनोविश्लेषण विधि (2) तुलनात्मक विधि
(3) विकासीय विधि ♦ (4) सांख्यिकी विधि

361 गर्भावस्था का समय है
(1) गर्भ धारण से जन्म तक ♦
(2) जन्म से प्रथम वर्ष तक
(3) गर्भधारण का समय
(4) इनमें से कोई नही

362 सीखने की परिघटना में निम्नलिखित में संे कौन आवश्यक घटक नही है
(1) अधिगमकर्ता
(2) आंतरिक अवस्था
(3) प्रेरक
(4) शिक्षक ♦
363 शिक्षार्थियों में वैयक्तिक भिन्नताओं को सम्बोधित करने के लिए एक विद्यालय किस प्रकार का सहयोग उपलब्ध करवा सकता है
(1) सभी शिक्षार्थियों के लिए समान स्तर की पाठ्यचर्या का अनुगमन करना
(2) बाल-केन्द्रित पाठ्यचर्या का पालन करना और शिक्षार्थियों को सीखने के अनेक अवसर उपलब्ध करवाना ♦
(3) शिक्षार्थियों में वैयक्तिक भिन्नताओं को समाप्त करने के लिए हर सम्भव उपाय करना
(4) धीमी गति से सीखने वाले शिक्षार्थियों को विशेष विद्यालयों मे भेजना

364 निम्नलिखित मेंसे कौनसा सीखने के लिए अधिकतम रूप से अभिप्रेरित करता है
(1) असफलता से बचने के लिए अभिप्रेरणा
(2) बहुत सरल या कठिन लक्ष्यों का चयन करने की प्रवृति
(3) लक्ष्यों को प्राप्त करने में व्यक्तिगत सन्तुष्टि ♦
(4) बाह्य कारक

365 शिक्षार्थी वैयक्त्कि भिन्नता प्रदर्शित करते है। अतः शिक्षक को
(1) सीखने के विविध अनुभवों को उपलब्ध करना चाहिए ♦
(2) कठोर अनुशासन सुनिश्चित करना चाहिए
(3) परीक्षाओं की संख्या बढ़ा देनी चाहिए
(4) अधिगम की एकसमान गति पर बल देना चाहिए

366 निम्नलिखित में से कौनसा सिद्धान्त यह दर्शाता है कि अपेक्षित व्यवहार के सन्निकट सकारात्मक प्रतिक्रिया तथा पुनर्बलन के फलस्वरूप व्यवहारात्मक विकास किया जा सकता है
(1) शास्त्रीय अनुबन्धन (2) वाद्य अनुबन्धन
(3) आपरेन्ट अनुबन्धन ♦ (4) सामाजिक अनुबन्धन

367 बच्चा किस प्रकार सीखता है
(1) पुस्तकें पढ़कर (2) परिचर्चा द्वारा
(3) प्रश्न पूछकर (4) कई प्रकार से ♦

368 एकीकृत छात्र-केन्द्रित अधिगम के लिए पाठ्यक्रम मे निम्नलिखित में से क्या लाभकारी नहीं है
(1) छात्र का अभिप्रेरण विकास
(2) सहकर्मी संचार का विकास
(3) छात्र-शिक्षक सम्बन्ध का निर्माण
(4) खोज/सक्रिय अधिगम का हृास ♦

369 हालांकि यह स्पष्ट रूप से उनकी सुरक्षा आवश्यकताओं का उल्लंधन था, लेकिन अपने देश की रक्षा करते हुए कैप्टन विक्रम बत्रा कारगिल युद्ध में शहीद हुए। उन्हें सम्भवतः…………..
(1) असाधारण अनुभव की इच्छा थी
(2) आत्म -सिद्धि प्राप्ति की इच्छा थी ♦
(3) अपने अपनत्व सम्बन्धी आवश्यकताओं की अपेक्षा
(4) अपने परिवार के लिए ख्याति प्राप्त करना

370 ……………………की अवस्था तक बालक की दृष्टि एवं श्रवण इन्द्रियाॅ पूर्ण विकसित हो चुकी होती है?
(1) 3 अथवा 4 वर्ष तक ♦
(2) 6 अथवा 7 वर्ष तक
(3) 8 अथवा 9 वर्ष तक
(4) इनमें से कोई नही

371 सामान्य तथा विशिष्ट कारक सिद्धान्त का प्रतिपादन किया था।
(1) अल्फ्रेड बिने ने (2) स्पीयरमैन ने ♦
(3) गिलफोर्ड ने (4) थस्र्टन ने

372 निम्नलिखित में से कौनसा सीखने का नियम नहीं है?
(1) तत्परता का नियम (2) तनाव का नियम ♦
(3) प्रभाव का नियम (4) अभ्यास का नियम

373 निम्न में कौन सीखने के गेस्टाल्ड सिद्धान्त से सम्बन्धित है?
(1) पावलाव (2) स्किनर
(3) थाॅर्नडाइक (4) कोहलर ♦

374 मूल्यांकन प्रक्रिया का सोपान है?
(1) उद्देश्य का निर्धारण
(2) उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए अध्ययन-अध्यापन क्रियाओं का निर्धारण
(3) मूल्यांकन की प्रविधियों का चयन एवं निर्माण
(4) उपर्युक्त सभी ♦

375 शिक्षक द्वारा कक्षा में डाट पड़ने पर छात्र यदि घर आकर अपनी छोटी बहन पर गुस्सा जाहिर करता है तो यह किसका उदाहरण बनता है?
(1) विस्थापन ♦ (2) उदातीकरण
(3) रूपान्तर (4) प्रतिक्रिया निर्माण

376 अल्बर्ट बण्डूरा निम्न में से किस सिद्धान्त से सम्बन्धित है?
(1) सामाजिक अधिगम सिद्धान्त ♦
(2) व्यवहारात्मक सिद्धान्त
(3) विकास का संज्ञानात्मक सिद्धान्त
(4) विकास का मनो-सामाजिक सिद्धान्त

377 व्यक्तित्व विकास की अवस्था है-
(1) व्यक्तिवृत अध्ययन
(2) अधिगम एवं वृद्धि ♦
(3) उपचारात्मक अध्ययन
(4) इनमें से कोई नहीं

378 शिक्षण को अधिगम में कैसे बदला जा सकता है
(1) परीक्षाओं का आयोजन करके
(2) रटने की प्रवृति को प्रोत्साहित करके
(3) सामने शिक्ष्ज्ञणपर बल देकर
(4) बाल केन्द्रित शिक्षाशास्त्र को अपनाकर ♦

379 किस स्थिति पर बच्चे यह जानें के नियमकं को आपात स्थितियों में तोड़ जा सकता है
(1) परायतता-अधिकार
(2) स्वायता-किशोरावस्था ♦
(3) व्यतिक्रम
(4) परतंत्रता-पारस्परिकता

380 बुद्धि का पदानुक्रमिका सिद्धान्त का प्रतिपादन किसने किया
(1) फ्रायड (2) मैरिल
(3) कोहलर (4) बर्ट व बर्नन ने ♦

381 बुद्धि के त्रिआयामी सिद्धान्त के प्रवर्तक कौन है
(1) मैरिल (2) गिलफोर्ड ♦
(3) र्थस्टन (4) स्किनर

382 निम्नलिखित कथनों में से कौन निष्पादन परीक्षण का सबसे सही वर्णन करता है
(1) यह एक गति परीक्षण है
(2) यह एक शक्ति परीक्षण है
(3) इसमें भाषा का प्रयोग नही होता है
(4) यह एक विशेष योग्यता परीक्षण है ♦

383 एक अभिभावक आपसे विद्यालय में मिलनेके लिए कभी नही आता है। आप-
(1) बच्चे की अपेक्षा करेगे
(2) अभिभावक को लिखेंगे
(3) आप स्वयं उनसे मिलने जाएंगे ♦
(4) बच्चे को दण्ड देना शुरू करेंगे

384 समायोजन की विधिया है
(1) कुण्ठा से (2) संघर्ष से
(3) 1 और 2 दोनों ♦ (4) धन से

385 वाइगोत्सकी के सिद्धान्त में विकास के किस पहलू की उपेक्षा होती है
(1) सामाजिक (2) सांस्कृतिक
(3) जैविक ♦ (4) भाषायी

386 सामान्य बुद्धि के कारक है
(1) एक कारक जो उसके स्तर के बारे में भविष्यवाणी करता है, यहा तक एक बालक में सुधार किया जा सकता है
(2) बुद्धि के सामान्य वितरण में मानक विचलन ♦
(3) मानसिक योग्यता का मापन करने के लिए सामान्य शब्द
(4) एक बालके की बुद्धिलब्धि का विकास करने के लिएि आवश्यक मार्गदर्शन

387 वैयक्तिक विभिन्नता के मिलन के सम्बन्ध में एक अध्यापक की भूमिका होनी चाहिए।
(1) व्यक्ति के दृष्टिकोण, अभिरूचि और योग्यता को जानने का प्रयास
(2) व्यक्ति आधारित पाठयक्रमों को उनकी आवश्यकता के अनुसार जानने की कोशिश
(3) 1 व 2 दोनों ♦
(4) उपर्युक्त में से कोई नहीं

388 एक अध्यापक विद्यार्थियों को अलग अलग प्रकार के कार्य प्रदान करता है। वह विश्वास करता है कि
(1) विद्यार्थी एक जैसा कार्य दिया जाना पसन्द नहीं करतंेहै
(2) इससे विद्यार्थियों में प्रतिस्पर्धा की भावना उत्पन्न होतीहै
(3) विद्यार्थियों में व्यक्तिगत विभिन्नता होती है ♦
(4) विद्यार्थी एक-दूसरे के कार्य की नकल नहीं कर सकते है

389 निम्नलिखित में से कोनसी प्रतिभावान विद्यार्थियों के लिए सबसे उचित गतिविधि है?
(1) एक साथ पाॅच पाठों के अन्त में दिए गए अभ्यासों को एक साथ हल करना
(2) उन्हें अतिरिक्त कक्षा में पढ़ाना
(3) हाल ही में हुए विद्यार्थियों में आयोजित एक खेल पर रिपोर्ट लिखने के लिए कहना
(4) दी गई अवधारणाओं पर एक मौलिक नाटक लिखना ♦

390 बोलने को प्रभावित करने वाले गंतिक विकार को कहा जाता है
(1) अप्रैक्सिया ♦ (2) अफेजिया
(3) डिस्फोनिया (4) शब्द-फोबिया

391 कार्य को आरम्भ करने, जारी रखने और नियमित करने की प्रक्रिया है?
(1) प्रेरणा ♦ (2) संवेदना
(3) सीखना (4) प्रत्यक्षीकरण

392 शैशवास्था की विशेषता नहीं है?
(1) नैतिकता का होना ♦
(2) दूसरों पर निर्भरता
(3) शारीरिक विकास की तीव्रता
(4) मानसिक विकास में तीव्रता

393 ध्यान आकर्षित होने में…………की प्रमुख भूमिका होती है
(1) उद्दीपन की तीव्रता ♦
(2) उद्दीपन की उपादेयता
(3) उद्दीपन की विश्वसनीयता
(4) उद्दीपन की सक्रियता

394 विस्मृति कम करने का उपाय है?
(1) सीखने की कमी
(2) सीखने की त्रुटिपूर्ण विधि
(3) पाठ की पुनरावृति ♦
(4) स्मरण करने में कम ध्यान देना

395 निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए
सूची प् सूची प्प्
अ एक तत्व सिद्धान्त 1 गिलफोर्ड
ब बहुतत्व सिद्धान्त 2 बिने
स समूह तत्व सिद्धान्त 3 थाॅर्नडाइक
द त्रिआयम सिद्धान्त 4 थस्र्टन
कूट-
अ ब स द
(1) 4 3 2 1
(2) 4 1 2 3
(3) 3 4 2 1
(4) इनमें से कोई नहीं ♦

396 वे शिक्षक जो विद्यालय आधारित आंकलन के अंतर्गत कार्य करते है-
(1) उन्हंे प्रत्येक शिक्षार्थी को प्रत्येक विषय में परियोजना कार्य देना पड़ता है
(2) शिक्षार्थियों के मूल्यों और अभिवृतियों का आंकलन करने के लिए रोजाना उनका सूक्ष्म अवलोकन करते है
(3) व्यवस्था के लिए स्वामित्व की भावना रखते है ♦
(4) उन पर अधिग कार्य का बोझ रहता है, क्योंकि उन्हे सोमवार की परीखा सहित अवसर परीक्षा लेनी पड़ती है

397 गार्डनर के बहुबुद्धि सिद्धान्त के अनुसार, वह कारक जो एक व्यक्ति के आत्मबोध में सबसे अधिक योगदान देता है, वह हो सकता है
(1) संगीतमय (2) आध्यात्मिक
(3) भाषायी (4) अन्तः वैयक्तिक ♦

398 कोलबर्ग के सिद्धान्त की मुख्य आलोचना क्या है
(1) कोलबर्ग ने बिना अनुभव के आधार के एक सिद्धान्त का प्रतिपादन किया
(2) कोलबर्ग ने प्रतिपादित किया कि नैतिक तर्क विकासात्मक होता है
(3) कोलबर्ग ने पुरूषों और महिलाओं के नैतिक तर्क में सांस्कृतिक विभिन्नताओं को
ध्यान में नहीं रखा ♦
(4) कोलबर्ग ने नैतिक विकास की स्पष्ट अवस्थाओं को वर्णन नहीं किया

399 प्रत्येक शिक्षार्थी अपने आप में अद्वितीय है। इसका अर्थ है
(1) किसी भी दो शिक्षर्थियों की योग्यता, रूचि और प्रतिभा समान नहीं होती है ♦
(2) शिक्षार्थियों के गुणों में सामान्यता नहीं होती और न ही उनके लक्ष्य सामान्य होते है
(3) सभी शिक्षार्थियों के लिए एक सामान्य पाठ्यक्रम संम्भव नहीं है
(4) शिक्षार्थियों की क्षमता को विकसित करना असम्भव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.